• Thu. Sep 29th, 2022

The Uk Pedia

We Belive in Trust 🙏

श्रीनगर में मांस, मंदिरा, गुटके के दुकान पर लगे प्रतिबंध, विभोर बहुगुणा ने उठाई धार्मिक नगरी घोषित किरने की मांग

Bytheukpedia

Jul 7, 2022
श्रीनगर को धार्मिक नगरी घोषित किए जाने की मांग
Spread the love

श्रीनगर। भाजपा धार्मिक प्रकोष्ठ ने श्रीनगर को धार्मिक नगरी घोषित किए जाने की मांग उठाई है। गुरूवार को श्रीनगर स्थित अदिति स्मृति न्यास में आयोजित बैठक में धार्मिक प्रकोष्ठ के जिला संयोजक विभोर बहुगुणा ने कहा कि –

श्रीनगर धार्मिक नगरी है और बदरी-केदार यात्रा का प्रमुख पड़ाव है। कहा कि श्रीनगर में तमाम ऐसे मंदिर और मठ है जिनके प्रति लोगों की अस्था जुड़ी हुई है। जिसको देखते हुए यहां मांस-मदिरा की दुकानों पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। कहा कि सरकार श्रीनगर को धार्मिक नगर के रूप में विकसित कर इसे धार्मिक नगरी घोषित करे। कहा सरकार सबसे पहले नगर क्षेत्र में मदिरा एवं मीट-मांस की दुकानों को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित करे। साथ ही मंदिरों के आस-पास पान, गुटखा की दुकानें भी बंद की जानी चाहिए। उन्होंने मंगलवार को नगर क्षेत्र में नियमों के तहत नाई की दुकानें भी बंद रखे जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अवैध रूप से संचालित हो रही मांस की दुकानों के खिलाफ खाद्य सुरक्षा अधिकारी को सख्त रूख अपनाना चाहिए।

व्यापार सभा अध्यक्ष दिनेश असवाल ने कहा कि बाहर से यहां व्यापार करने के लिए आने वाले लोगों का सत्यापन होने के साथ ही प्रशासन से उन पर निगरानी रखने को कहा। बैठक में भाजपा मंडल अध्यक्ष गिरीश पैन्यूली, जिला मंत्री जितेंद्र रावत, भाजायुमो के प्रदेश मंत्री डा. सुधीर जोशी, हिमांशु बहुगुणा, देवेंद्र भट्ट, सौरभ जैन, राहुल बिष्ट, प्रमिला भंडारी, पूजा गौतम, अनूप बहुगुणा आदि मौजूद रहे।