• Tue. Sep 27th, 2022

The Uk Pedia

We Belive in Trust 🙏

जटिल बना CUET से गढ़वाल विवि में प्रवेश प्रक्रिया, छात्रों में बनी है असमंजसता की स्थिति

Bytheukpedia

Sep 19, 2022
जटिल बना CUET से गढ़वाल विवि में प्रवेश प्रक्रिया, छात्रों में बनी है असमंजसता की स्थिति
Spread the love

The Uk Pedia Report

श्रीनगर। हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय (HNB Garhwal University) में नये शैक्षणिक सत्र (new academic session 2022-23) के प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गयी है। लेकिन इस बार यह प्रवेश प्रक्रिया छात्रों के लिए जटिल बनी हुई हैं। छात्रों को विश्वविद्यालय में आवेदन करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं कई छात्रो को पाठ्यक्रम के चयन में असमंजसता की स्थिति बनी हुई है।

बता दें कि इस बार केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए एनटीए द्वारा सीयूईटी  (Common University Entrance Test) परीक्षा आयोजित किया गया था। जिसके बाद ही केन्द्रीय विश्वविद्यालष्यों (Central Universities) में छात्र प्रवेश कर सकते थे। 16 सितंबर को सीयूईटी CUET प्रवेश परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद गढ़वाल विवि ने विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए पोर्टल खोल दिया है। 17 सिंतबर से छात्र समर्थ पोर्टल पर प्रवेश के लिए पंजीकरण Registration कर सकते थे। लेकिन छात्रों को पंजीकरण करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं 12वीं कक्षा की परीक्षा देने के बाद पहली आर सीबीटी टेस्ट (Computer Based Test) देने वाले छात्रों को परसेंटायल व स्कोर समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर वें प्रवेश के लिए योग्य हैं या नहीं (Eligible for admission or not)

वहीं पंजीकरण के दौरान पाठ्यक्रमों के चयन में भी छात्रों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। विवि द्वारा दिए गये समर्थ पोर्टल (Samarth Portel) पर पंजीकरण करने के दौरान छात्रों को पाठ्यक्रम का चुनाव करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। छात्र पोर्टल पर प्रवेश के लिए पंजीकरण तो कर पा रहे हैं, लेकिन किस पाठ्यक्रम में उन्हें प्रवेश लेना है (which course they have to take admission in)

इसके लिए उन्हें पाठ्यक्रम चुनने की सुविधा नहीं दी गई है। जिससे पंजीकरण को लेकर छात्रों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है। वहीं पूरे मामले पर विवि Garhwal University के कार्यकारी डीएसडब्लू प्रो0 वाईपी रेवानी का कहना है कि छात्र पंजीकरण के लिए 26 सितंबर तक पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं। कुछ तकनीकी दिक्कतों के कारण विभिन्न पाठ्यक्रमों को अलग-अलग करने में समय लग रहा था। जिसके चलते पहले चरण में केवल पंजीकरण रखा गया है।

20 सितंबर से छात्र पाठ्यक्रम का चुनाव कर सकते हैं। बताया कि जब छात्रों द्वारा पंजीकरण कर लिया जायेगा। उसके बाद विवि द्वारा मेरिट लिस्ट जारी कर प्रवेश प्रक्रिया शुरू कर दी जायेगी। इसके लिए विवि के अधिकारियों, समर्थ पोर्टल के अधिकारियों की बैठक भी विवि प्रशासन जल्द आयोजित करेगा।