• Sat. Feb 4th, 2023

The Uk Pedia

We Belive in Trust 🙏

महिला के लिए फरिशते बनें संयुक्त अस्पताल के डॉक्टर, पेट से निकाला साढ़े 4 किलो की रसौली

Spread the love

महिला के लिए फरिशते बनें संयुक्त अस्पताल श्रीनगर गढ़वाल के डॉक्टर
महिला के पेट से निकाला साढ़े चार किलो का टयूमर
लंबे समय से थी पेट दर्द से परेशान

श्रीनगर गढ़वाल। बीते सात-आठ महीनों से नेपाल मूल की एक महिला पेट दर्द से परेशान थी, जब धीरे-धीरे पेट दर्द की शिकायत बढ़ने लगी व ब्लिडिंग होने लगी तो महिला राजकीय संयुक्त उप जिला चिकित्सालय श्रीनगर (Government Combined Sub District Hospital Srinagar) पहुॅची। यहॉ रेडियोलॉजिस्ट डॉ रचित गर्ग Radiologist Dr. Rachit Garg ने महिला का अल्ट्रासांउड किया तो महिला के पेट में रसौली (Tumor) होने की पुष्टि हुई। जिसके बाद महिला को आपरेशन करने की सलाह दी गई। उप जिला अस्पताल श्रीनगर में करीब 4 घंटों तक चले ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने महिला के पेट से करीब साढ़े चार किलो की रसौली को बाहर निकाला। वहीं ऑपरेशन के बाद महिला स्वस्थ है।

आपरेशन के बाद निकाला साढ़े चार किलो की रसौली
आपरेशन के बाद निकाला साढ़े चार किलो की रसौली

राजकीय संयुक्त उप जिला चिकित्सालय श्रीनगर के सर्जन डॉ लोकेश सलूजा ने बताया कि 50 वर्षीय महिला बीते लंबे समय से पेट दर्द से परेशान थी। वह पेट दर्द की शिकायत लेकर जांच के लिए डॉ सोनाली के पास पहुॅची। जब डॉ सोनाली द्वारा महिला को अल्ट्रासाउंड जॉच करवाने के लिए कहा गया तो अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में महिला के पेट में रसौली पाई गई। जिसके बाद महिला का ऑपरेशन किया गया। बताया कि सर्जन डॉ सुनील, गाइनोक्लोजिस्ट डॉ सोनाली द्वारा महिला का ऑपरेशन शुरू किया गया। वहीं महिला के पेट में रसौली से मल्टीपल फायब्राइड बन चुके थे जो बच्चे दानी तक पहुंच चुका था। बताया कि महिला के पेट में एक से अधिक छोटी-छोटी कई रसौली बन चुकी थी। 4 घंटे की कड़ी मसक्कत के बाद महिला के पेट से साढ़े 4 किलों की रसौली को बाहर निकाला गया।

आपरेशन करने वालों में कि सर्जन डॉ सुनील, गायनोक्लाजिस्ट डॉ सोनाली, डॉ लोकेश सलूजा, डॉ मोरीसा, डॉ आनंद सिंह राणा शामिल थे। वहीं महिला अब पूरी तरह ठीक है।  डॉ सलूजा ने बताया कि अगर समय पर रसौली को महिला के पेट से बाहर नहीं निकाला जाता तो भविष्य में कैंसर का खतरा भी बन सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *