• Tue. Sep 27th, 2022

The Uk Pedia

We Belive in Trust 🙏

प्यार में हुई अनबन तो अलकनंदा में कूद गई युवती, देवदूत बनकर आये जल पुलिस सुरक्षित निकाला बाहर

  • Home
  • प्यार में हुई अनबन तो अलकनंदा में कूद गई युवती, देवदूत बनकर आये जल पुलिस सुरक्षित निकाला बाहर
Spread the love

श्रीनगर। प्यार के आगे जिन्दगी कितनी बोनी है इसकी बानगी आज श्रीनगर गढ़वाल में देखने को मिली। यहॉ प्रेम प्रसंग के चलते एक युवती ने अलकनंदा नदी पर बने जीवीके जल विद्युत परियोजना की झील में छलांग मार दी। बताया जा रहा है किसी बात को लेकर युवती अपने प्रेमी से नाराज थी जिसके बाद युवती ने अलकनंदा में कूद मारकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने की कोशिश की। लेकिन पानी में कूद मारते ही युवती को जिन्दगी की कीमत का अहसास ओर मौत का भय आखों के सामने घूमने लगा। जिसके बाद अलकनंदा नदी में कूद मार चुकी युवती अपनी मदद के लिए बचाओ, बचाओ चिल्लाने लगी।

गनीमत रही की कुछ लोगों ने उसकी आवाज सुन ली ओर पुलिस को सूचना दे दी। सूचना मिलने पर झील के ही नजदीक डेम कॉलोनी श्रीनगर में नियुक्त 40 वीं वाहिनी पीएसी हरिद्वार की फलड कंपनी के जवान मौके पर पहुॅच गये। बीच अलकनंदा नदी में अपने आप को बचाने के लिए छटपटाती युवती को देख जल पुलिस के जवानों ने बिना समय गवाये नदी में कूद गये। और युवती को रेस्क्यू करने में जुट गये। कड़ी मसक्कतों के बाद जल पुलिस के जवानों ने युवती को सुरक्षित नदी से बाहर निाकला। और एंबुलेंस की मदद से बेस अस्पताल में भर्ती कर दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार युवती अल्मोड़ा की रहने वाली है। वह पूर्व में गढवाल विवि की छात्रा रह चुकी है। युवती श्रीनगर अपनी डिग्री लेने के लिए पहुॅची थी, लेकिन इस दौरान प्रेमी के संग अनबन होने के बाद युवती ने यह कदम उठाया। फिलहाल युवती सुरक्षित है। बचाव दल में हेड कांस्टेबल उत्तम भंडारी कांस्टेबल दिनेश प्रसाद कांस्टेबल विनोद नेगी कांस्टेबल संदीप कुमार कांस्टेबल मोहित सिंह कांस्टेबल कमल सिंह एवं गोताखोर महेंद्र नेगी आदि मौजूद रहे।

जल पुलिस के जवानो नें बताया कि युवती ने जिस वक्त अलंकनंदा नदी पर बनी झील में कूद मारी उस वक्त उैम के बेराज का गेट खुला हुआ था। जिससे पानी का बहाव बहुत तेज था, पहले बैराज का गेट बंद करावाया गया राफ्ट का इंतजार किये बिना रेस्क्यू के लिए जवान लाइफ जैकेट के साथ नदी में कूद गये। और युवती को सकुष्ल बचा लिया गया।